भाजपा के और ने दीया बयान, 'गोडसे आतंकवादी नहीं, उससे भूल हुई'











देश की राजनीति इस वक्त महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर गरमाई हुई है। बुधवार को भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा द्वारा गोडसे पर विवादित बयान देने के बाद देश की सियासत में भूचाल आ गया। विपक्ष मोदी सरकार पर जमकर हमलावर हुआ। भाजपा अभी इससे संभली भी नहीं है कि पार्टी के ही एक और विधायक का गोडसे को लेकर बड़ा बयान सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बलिया से भाजपा विधायक (MLA) सुरेंद्र सिंह ने बयान देते हुए कहा कि गोडसे आतंकवादी नहीं था, उससे भूल हुई थी। सिंह ने जोड़ा कि 'गोडसे आतंकवादी नहीं था। जो राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल थे वह आतंकवादी थे।'


सिंह ने कहा कि गोडसे ने भूल की। उसे राष्ट्रभक्त गांधी जी की हत्या नहीं करना चाहिए थी। इस दौरान जब पत्रकारों ने गोडसे के राष्ट्रभक्त होने पर सवाल किया तो विधायक सिंह ने इस पर चुप्पी साध ली।


साध्वी प्रज्ञा के बयान से गरमाई पूरी सियासत


भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा अपने विवादित बयानों के लिए पहचानी जाती हैं। बुधवार को भी उनके द्वारा दिए गए बयान ने देश की राजनीति में हलचल पैदा कर दी है। साध्वी के बयान से भाजपा के लिए भी बड़ी मुश्किलें खड़ी हो गई हैं। विपक्ष साध्वी प्रज्ञा के बयान के बाद लगातार हमलावर बना हुआ है। इसी का नतीजा रहा कि आज भाजपा हाईकमान ने साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की कमेटी से हटा दिया, इतना ही नहीं उनके संसदीय दल की बैठक में आने पर भी रोक लगा दी है। भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा के बयान से दूरी भी बना ली और इसे उनकी निजी राय बताया।