एनआईटी में बढ़ेंगी बीटेक और एमटेक की सीटें




इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए बीटेक (B.Tech - Bachelor of Technology) या एमटेक (M.Tec) करने की चाह रखने वाले विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (NIT ) में बीटेक व एमटेक कोर्सेज में सीटें बढ़ने जा रही हैं। 
 

मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ( इलाहाबाद की ओर से जानकारी दी गई है कि संस्थान में 14 फीसदी सीटें बढ़ने वाली हैं। शैक्षणिक सत्र 2020-21 से ही इसे लागू किया जा रहा है। यानी अगले सत्र से ही छात्रों को बढ़ी सीटों का लाभ मिल सकेगा।



किस कोर्स में कितनी सीटें बढ़ीं


संस्थान के फैकल्टी इंचार्ज (प्रवेश) आशुतोष उपध्याय ने बताया है कि इस फैसले के बाद सत्र 2020-21 में बीटेक कोर्स में कुल 1018 सीटों पर विभिन्न श्रेणियों में विद्यार्थियों को दाखिला मिल सकेगा। 2019-20 तक सीटों की संख्या 901 थी। यानी बीटेक में 117 सीटें बढ़ेंगी।

वहीं, अगर एमटेक कोर्स की बात करें तो नए सत्र में 595 विद्यार्थियों को दाखिला मिलेगा। 2019-20 के शैक्षणिक सत्र में यहां सीटों की कुल संख्या 528 थी।



बताया गया है कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए आरक्षण  लागू करने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है। हालांकि सीटें बढ़ाने वाले इस प्रस्ताव को अभी अंतिम मंजूरी मिलनी बाकी है। इसे अभी संस्थान के सीनेट के समक्ष पेश किया जाना बाकी है। मंजूरी के बाद इसे केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय के अंतर्गत ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (JoSAA) को भेजा जाएगा। ताकि देशभर के सभी 23 आईआईटी, 31 एनआईटी और 25 आईआईआईटी समेत अन्य सरकारी सहायता प्राप्त संस्थानों के लिए सीट मैट्रिक्स तैयार किया जा सके।

वहीं, कुछ अधिकारियों का कहना है कि ईडब्ल्यूएस श्रेणी के तहत 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के लिए संस्थान को 25 फीसदी तक सीटें बढ़ाने की जरूरत है। ताकि विभिन्न श्रेणियों के बीच नियमों के अनुसार सीटों का संतुलन बना रहे। 2019-20 में एमएनएनआईटी ने बीटेक की 11 फीसदी सीटें ही बढ़ाई थी।


एनआईटी समेत अन्य इंजीनियरिंग संस्थानों में दाखिले के लिए 6 से 11 जनवरी 2020 तक ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (JEEका आयोजन किया जाएगा।