ऊनी कपड़े पहनने से खुजली, राहत के लिए करें ये उपाय


 


आप भी उन लोगों की लिस्ट में शामिल हैं जिन्हें ऊनी कपड़े पहनते ही शरीर में खुजली होने लगती है या फिर शरीर पर लाल रैशेज हो जाते हैं तो ये खबर आपके लिए ही है। अक्सर सर्दियों में इस तरह की समस्या आम देखने को मिलती है। लेकिन क्या आप जानते हैं ऐसा क्यों होता है। आइए आपको बताते हैं आखिर क्यों ऊनी कपड़े पहनते ही लोगों को शरीर में खुजली और रैशेज होने लगते हैं। 











ऊनी कपड़ों से एलर्जी होने को 'टेक्सटाइल डर्मेटाइटिस' कहा जाता है।  है। इस तरह की एलर्जी में लोगों को ऊनी कपड़े पहनना मुश्किल हो जाता है।आइए जानते हैं क्या होते हैं इस एलर्जी के लक्षण और बचाव के उपाय। 


क्या हैं एलर्जी के लक्षण-
ऊनी कपड़े पहनने के बाद इस तरह की एलर्जी में इस तरह के लक्षण नजर आने लगते हैं। 
-त्वचा पर तेज खुजली होना
-चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों जैसे- चेहरे, हाथों, माथे आदि पर लाल-लाल रैशेज होना।
-ऊन के संपर्क में आने वाले हिस्से में सूजन आना।
-शरीर में छोटे-छोटे दाने या फिर चकत्ते निकलना।


ऊनी कपड़ों से एलर्जी का कारण
ऊनी कपड़ों से एलर्जी सेंसिटिव स्किन वाले व्यक्तियों को आमतौर पर होती है। ऊन में मौजूद छोटे-छोटे रोएं जब त्वचा पर मौजूद रोएं के साथ आपस में रगड़ते हैं तो उनमें एक तरह का खिंचाव पैदा होने लगता है। जिसकी वजह से शरीर में गर्मी पैदा होने लगती है। सेंसिटिव त्वचा इस तरह के खिंचाव से पैदा गर्मी को सहन नहीं कर पाती है।  जिसकी वजह से त्वचा पर दाने, चकत्ते, रैशेज होने लगते हैं। इसके अलावा त्वचा का रूखापन भी एलर्जी और खुजली की समस्या पैदा कर सकता है। त्वचा के रोएं ऊनी कपड़ों के रोएं के साथ मिलकर शरीर में गर्मी पैदा न करें इसके लिए ठंड का मौसम शुरू होते ही पूरे शरीर पर अच्छी क्वालिटी का बॉडी लोशन लगाना शुरू कर दें। ऐसा करने से एलर्जी की संभावना कम होगी। 


एलर्जी की समस्या दूर करने के उपाय-
-एलर्जी की समस्या दूर करने के लिए अपने शरीर पर मॉइश्चराइजर या बॉडी लोशन लगाकर रखें। 
-ऊनी कपड़े के नीचे कॉटन का कपड़ा पहनकर भी आप एलर्जी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
- एलर्जी की दवा का सेवन करके भी आप इस समस्या से राहत पा सकते हैं। 














  •  

  •  

  •  

  •