पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी की विराट कोहली ने


विराट कोहली ने शनिवार को बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन शतक जड़ा। विराट ने इसी के साथ एक खास उपलब्धि हासिल कर ली। उन्होंने टेस्ट कप्तान के रूप में इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने के रिकी पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। इस तरह विराट ने भारत के पहले पिंक बॉल टेस्ट में शतक जड़ते हुए इसे यादगार बना लिया।


विराट ने ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट मैच में बांग्लादेश के ताइजुल इस्लाम की गेंद पर 2 रन लेकर शतक पूरा किया। यह उनका 84वें टेस्ट मैच में 27वां शतक है। यह उनका टेस्ट कप्तान के रूप में 20वां शतक है और उन्होंने टेस्ट कप्तान के रूप में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में पोटिंग (19 शतक) को पीछे छोड़ दिया। पूर्व दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ग्रीम स्मिथ 23 शतकों के साथ इस लिस्ट में पहले क्रम पर हैं।


पोंटिंग की बराबरी पर पहुंचे :


विराट इस मैच से पहले 394 इंटरनेशनल मैचों में 69 शतक लगा चुके थे। उन्होंने कप्तान के रूप में 161 इंटरनेशनल मैचों में 40 शतक (19 टेस्ट और 21 वनडे) लगाए थे। वे इस मामले में पोंटिंग (41 शतक) के बाद दूसरे क्रम पर थे। भारतीय कप्तान कोहली ने जैसे ही बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में शतक लगाया, वे 41 शतकों के साथ इस मामले में पोटिंग के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर पहुंच गए।


विराट का यह 54वां टेस्ट मैच है और वे इनमें 20 शतक लगा चुके हैं। उन्होंने 80 वनडे मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की और इस दौरान उन्होंने 21 शतक लगाए। वे 27 इंटरनेशनल टी20 मैचों में टीम की कमान संभाल चुके हैं लेकिन वे इस दौरान एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं।


विराट इस मामले में भारत के पहले शतकवीर :


 


विराट डे-नाइट टेस्ट मैच में भारत की तरफ से शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए। वे इसी के साथ लाला अमरनाथ, कपिल देव, सुरेश रैना, संजय मांजरेकर और रोहित शर्मा के खास ग्रुप में शामिल हो गए।