रामनाथ कोविंद ने कहा - जनसाधारण को अत्याचार से मुक्ति दिलाने के लिए महायोगी कृष्ण ने लिया था जन्म


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरुवार को एक दिवसीय दौरे पर वृंदावन पहुंच गए हैं। यहां पहुंचने के बाद उन्होंनेरामकृष्ण मिशन की कैंसर यूनिट का शुभारंभ किया। कोविंद ने कहा कि महायोगी भगवान कृष्ण ने जनसाधारण को अत्याचार से मुक्ति के लिए यहां जन्म लिया और वृन्दावन को अपनी लीला भूमि बनाया। इसी पावन भूमि पर जनसाधारण को रोग मुक्त करने के लिए मिशन ने इस धरती को चुना, इसके लिये मिशन को बधाई देता हूं।


गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपनी पत्नी सविता कोविंद के साथ आरके मिशन पहुंचे। उनके साथ राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरके मिशन में नवनिर्मित ब्लाक का जायजा लिया।इसके बाद राष्ट्रपति ने बांकेबिहारी मंदिर में ठाकुर जी के दर्शन किए।


बांके बिहारी जी के दर्शन और निकुंज वन में विजय कौशल महाराज से आशीर्वाद लेने के बाद राष्‍ट्रपति अक्षयपात्र पहुंचे। यहांपरिषदीय स्‍कूल के बच्‍चों के साथ उन्होंने फोटो भी खिंचवाया और फिरअपने हाथों से बच्‍चों को भोजन परोसा। उनके साथ मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी बच्‍चों को भोजन परोसा।


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन के लिए भक्तों के लिए पट बंद कर दिए गए थे। वहीं वहां के सेवायतों को भी बाहर कर दिया गया था। रामनाथ कोविंद के साथ उनकी पत्नी सविता कोविंद भी वृंदावन पहुंची थीं।


सनातन परम्परा ने सेवा को ही धर्म माना है- योगी


इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सनातन परंपरा ने सेवा को ही धर्म माना है। स्वामी विवेकानन्द ने भी धर्म को सेवा मानकर कार्य किया। कैंसर जैसी बीमारी के लिए ये अस्पताल बहुत उपयोगी साबित होगा। राम के नाम पर पूरे देश में जो सेवा का मिशन चल रहा है। यहां दूसरे राम द्वारा उसे एक नई गति दी जा रही है। यह अदभुत संयोग है।


निर्धारित कार्यक्रम के तहत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आगरा से हेलीकॉप्टर सेसुबहअक्षयपात्र स्थित हेलीपैड पर उतरने के बाद वह सड़क मार्ग से मथुरा के लिए रवाना हुए। यहां उनकी अगवानी प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की।


पहली बार बांके बिहारी की नगरी वृंदावन पहुंचेराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रामकृष्ण मिशन में नवस्थापित कैंसर यूनिट को ब्रजवासियों को समर्पित किया।राष्ट्रपति बांके बिहारी मंदिर में दर्शन कर विधिवत पूजा अर्चना करेंगे।