रायबरेली सदर विधायक अदिति सिंह की सदस्यता समाप्त करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष को दिया नोटिस


कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने रायबरेली सदर से पार्टी विधायक अदिति सिंह की सदस्यता खत्म करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष विचार के लिए याचिका दी है। यह याचिका यूपी विधानसभा सदस्य दल परिवर्तन के आधार पर निर्भरता नियमावली 1987 के तहत दी गई है।


 

दरअसल, अदिति ने पार्टी व्हिप के खिलाफ दो अक्तूबर को गांधी जयंती के उपलक्ष्य में आहूत विशेष सत्र में हिस्सा लिया था, जबकि पार्टी हाईकमान ने सत्र में हिस्सा न लेने के लिए कहा था। हाल ही में अदिति की शादी पंजाब के विधायक अंगद सिंह के साथ हुई है। शादी के फौरन बाद पार्टी ने यह कदम उठाया है। कांग्रेस ने अदिति को कारण बताओ नोटिस दिया था। रिमाइंडर भी भेजा गया था। लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया।



आराधना ने बताया कि वे इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष से मिलकर पार्टी का पूरा पक्ष रखेंगी। उल्लेखनीय है कि सोमवार को कांग्रेस से निष्कासित नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रदेश नेतृत्व पर यह आरोप भी लगाया था कि वे अदिति के खिलाफ कार्रवाई का साहस नहीं जुटा पा रहा है।


मोना ने मंगलवार की रात विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय में नोटिस को रिसीव करा दिया है। इससे पहले कांग्रेस विधायक राकेश सिंह और विधान परिषद सदस्य दिनेश सिंह के खिलाफ  भी याचिका लंबित है। इनके खिलाफ भी दल बदल कानून के तहत कार्रवाई की मांग की गई है।