संघर्ष के दिनों में मिथुन चक्रवर्ती  पानी की टंकियों पर सोया करते थे


भारत का सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला डांसिंग रियलिटी शो डांसिंग रियलिटी शो 'डांस प्लस 5'  पर वापस आ गया है. पिछले 2 हफ्तों का समय काफी कठिन रहा, जिसमें सुपर जज रेमो डिसूजा के साथ टीमों के कैप्टंस ने इस प्रतिष्ठित मंच पर डांस कर रहे डांसर्स में से बेस्ट डांसर्स को चुन कर टीम तैयार की. इसके साथ ही, महान डिस्को डांसर मिथुन चक्रवर्ती  'डांस प्लस 5'  के आगामी एपिसोड में शानदार उपस्थिति दर्ज करवाएंगे. डांस के साथ उनका जुड़ाव दुनिया भर में जाना जाता है.


डांसर्स ने बहुत अलग-अलग स्टाइल का डांस पेश किया, जिससे मिथुन चक्रवर्ती बेहद प्रभावित हुए. बहुमुखी अभिनेता मिथुन दा ने जब प्रतियोगियों के संघर्ष की अलग-अलग कहानियां सुनीं, तो उन्हें भी पहली बार मुंबई आने के बाद के अपने संघर्ष के दिनों की याद आ गई. अपने जीवन के कठिन दिनों के बारे में अनसुनी बातें साझा करते हुए मिथुन भावुक हो गए.


मिथुन चक्रवर्ती  ने बताया, “मैंने कभी सपने देखना नहीं छोड़ा और हमेशा हकीकत का सामना किया. जब मैं मुंबई आया था, मेरे पास रहने का कोई ठिकाना नहीं था और वे ऐसे दिन थे जब मैं इमारतों की छतों पर बनी पानी की टंकियों पर छिप जाता था और वहीं सो जाता था ताकि सुरक्षा गार्ड मुझे देख न सकें और मुझे वहां से बाहर न निकाल दें. जब मैंने फिल्म इंडस्ट्री में काम ढूंढ़ने की शुरुवात की, तभी मेरे रंग के वजह से मुझे कई बार रिजेक्ट किया गया. तभी मैंने ये सोच लिया की में अपने नाच की कुशलता सबको दिखाऊंगा जिस के कारन लोग मेरे रंग के जगह मेरे नाच पे ध्यान दे.”


मिथुन चक्रवर्ती  की इस कहानी को सुनने के बाद, सेट पर मौजूद सभी लोगों की आंखें नम हो गईं थीं. यह एक बेहद मार्मिक स्मृति थी जिसे इस महान कलाकार ने सभी के साथ साझा किया. मिथुन ने 'डांस प्लस 5'  के सभी प्रतिभागियों का आत्‍मविश्‍वास, उत्साह और विश्वास भी बढाया