विजय माल्या का किंगफिशर हाउस की फिरसे शुरू होगी नीलामी










फरार चल रहे शराब कारोबारी विजय माल्या के स्वामित्व वाला किंगफिशर हाउस तीन साल में एक बार फिर 8वीं बार नीलामी के लिए रखा गया है। वर्तमान में किंगफिशर हाउस डिफंक्ट किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड (केएएल) का मुख्यालय है।


जब्त संपत्ति के लिए बेंगलुरु स्थित ऋण वसूली अधिकरण (डीआरटी) ने एक ऑनलाइन बोली प्रक्रिया के माध्यम से 27 नवंबर को एक नई नीलामी तिथि की घोषणा की है।


संपत्ति की पहली नीलामी के दौरान 135 करोड़ रुपये के आरक्षित मूल्य से नीलामी शुरू हुई थी। 2016 में लगभग 150 करोड़ रुपये का मूल्य था। इस बार 8वीं नीलामी के लिए 60 फीसदी की तेज गिरावट के साथ आरक्षित मूल्य केवल 54 करोड़ रुपये से कम पर निर्धारित है।


इमारत को मूल रूप से पैराडिगम के नाम से जाना जाता है और बाद में इसे किंगफिशर हाउस  कर दिया गया। इसमें एक बेसमेंट, एक अपर ग्राउंड फ्लोर, एक ग्राउंड फ्लोर और एक अपर फ्लोर है, जिसे बेचा जाना है। इसका कुल मापन 1,586 वर्ग मीटर है। 


यह छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरार्ष्ट्रीय हवाई अड्डे (सीएसएमआईए) के बाहर एक प्रतिष्ठित स्थान में लगभग 2,402 वर्ग मीटर की दूरी पर स्थित है।