अरुंधति स्वर्ण योजना’ के तहत दुल्हनों को 10 ग्राम सोना



असम सरकार ने राज्य की हर लड़की की शादी में सोना देने के लिए 1 जनवरी से नई योजना की शुरुआत करने जा रही है। राज्य सरकार की 'अरुंधति स्वर्ण योजना' के तहत दुल्हनों को 10 ग्राम सोना दिया जाएगा। इस योजना पर सरकार हर साल करीब 800 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इस योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2020 से हो रही है।



दुल्हन को 10 वीं पास होना जरूरी



  • असम सरकार ने घोषणा की है कि वह हर दुल्हन जिसकी उम्र 18 साल हो, जिसने कम से कम 10वीं पास की हो और अपनी शादी को रजिस्टर्ड कराया हो, उसे 10 ग्राम सोना उपहार के रूप में दिया जाएगा। 

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपए से कम होनी चाहिए। इसके अलावा शादी विशेष विवाह अधिनियम, 1954 के तहत पंजीकृत होनी चाहिए।

  • असम में हर साल करीब 3 लाख शादियां होती हैं लेकिन सिर्फ 50000-60000 शादियों का ही रजिस्ट्रेशन होता है। लोगों को शादी को पंजीयन कराने के प्रति जागरुक करने में भी ये योजना मदद करेगी।

  • इस योजना का मकसद लड़कियों को शिक्षा के प्रति जागरुक करना है। इसके अलावा इस योजना से बाल विवाह को रोकने में भी मदद मिलेगी।