रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर ने सरकारी कंपनी दामोदर वैली कॉर्पोरेशन के खिलाफ आर्बिट्रेशन अवॉर्ड जीता







अनिल अंबानी की रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर ने सरकारी कंपनी दामोदर वैली कॉर्पोरेशन (डीवीसी) के खिलाफ 1,250 करोड़ रुपए का आर्बिट्रेशन अवॉर्ड जीता है। रिलायंस इन्फ्रा ने सोमवार को यह जानकारी दी। कंपनी ने कहा कि आर्बिट्रेशन अवॉर्ड की रकम का इस्तेमाल कर्ज चुकाने में किया जाएगा। आर्बिट्रेशन अवॉर्ड जीतने की जानकारी से रिलायंस इन्फ्रा का शेयर बीएसई पर 5% चढ़कर 24.25 रुपए पर पहुंच गया। अपर सर्किट लिमिट लागू होने की वजह से ट्रेडिंग रोक दी गई।


7 साल पुराने कॉन्ट्रैक्ट से जुड़ा था विवाद
रिलायंस इन्फ्रा को 2012 में पश्चिम बंगाल में डीवीसी के रघुनाथपुर थर्मल पावर प्रोजेक्ट का इंजीनियरिंग-कंस्ट्रक्शन कॉन्ट्रैक्ट मिला था। इससे जुड़े विवाद में कंपनी मध्यस्थता अदालत में केस लड़ रही थी। आर्बिट्रेशन ट्रिब्यूनल ने डीवीसी से कहा कि रिलायंस इन्फ्रा को 896 करोड़ रुपए का भुगतान करे और 354 करोड़ रुपए की बैंक गारंटी लौटाए। भुगतान में चार हफ्ते से ज्यादा देरी होने पर सालाना 15% की दर से ब्याज चुकाने के आदेश भी दिए हैं। रिलायंस इन्फ्रा का कहना है कि बैंक गारंटी के एवज में आर्बिटल अवॉर्ड का 75% भुगतान तुरंत करने की मांग करेगी।