8 फरवरी को 70 सीटों पर होगा मतदान,11 फरवरी को पता चलेगा दिल्ली में किसकी सरकार?


राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव का एलान हो गया है। सोमवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि राज्य की सभी 70 सीटों के लिए आठ फरवरी को मतदान होगा और 11 फरवरी को मतगणना होगी। चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया 14 से 21 जनवरी तक चलेगी। 2015 में सात फरवरी को र्वोंटग और 10 को मतगणना हुई थी। नतीजों में आम आदमी पार्टी को 67 और भाजपा को तीन सीटें मिली थीं।


मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि चुनाव के एलान के साथ ही आदर्श चुनाव आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है। निगरानी शुरू हो गई है। पहली फरवरी को आने वाले केंद्रीय बजट से जुड़े सवाल पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि इसे लेकर 2017 के सर्कुलर में सब साफ है। जिस राज्य में चुनाव है, उसका जिक्र बजट भाषण में नहीं होगा। दिल्ली में चुनावों के एलान से पहले से ही राजनीतिक दलों ने जनता को लुभाना शुरू कर दिया है। आम आदमी पार्टी ने हाल में कई बड़ी घोषणाएं की हैं। बताया जा रहा है कांग्रेस भी लोकलुभावन वादों के साथ ताल ठोकने को तैयार है। भाजपा पीएम नरेंद्र मोदी के नाम पर मैदान में होगी।


बुजुर्गों के लिए पोस्टल बैलेट


इस बार दिल्ली विस चुनाव में 80 साल या उससे ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को पोस्टल बैलेट से वोटिंग की सुविधा मिलेगी। यानी वे घर बैठे वोट डाल सकेंगे। इसके लिए नामांकन शुरू होने के पांच दिन के भीतर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। झारखंड विस चुनाव के दौरान सात विस क्षेत्रों में इस प्रयोग को आजमाया था, जो सफल रहा था। बुजुर्गों और दिव्यांगों को र्पोंलग बूथ तक लाने के लिए खास इंतजाम भी होंगे।