आयकर विभाग ने भेजा तीन करोड़ 49 लाख का नोटिस, तनख्वाह छह हजार


मध्यप्रदेश के भिंड जिले के रहने वाले एक युवक को आयकर विभाग ने तीन करोड़ 49 लाख रुपये का नोटिस भेजा गया है। युवक का नाम रवि गुप्ता है जो एक निजी कंपनी में छह हजार रुपये की पगार पर काम करता है। 


 

रवि का कहना है कि 30 मार्च 2019 को उनको आयकर विभाग से एक नोटिस आया था। यह नोटिस तीन करोड़ 49 लाख रुपये का था। आयकर विभाग ने रवि गुप्ता को यह रकम आगामी 17 जनवरी, 2020 तक जमा करने के लिए कहा था। रवि ने कहा कि उन्हें समझ नहीं आया कि उनकी मासिक आय छह हजार रुपये है और उन्होंने ऐसा क्या कर दिया है कि आयकर विभाग ने तीन करोड़ 49 लाख रुपये का नोटिस भेजा है। 


जब रवि ने छानबीन की तो पता चला कि आयकर विभाग ने उसे यह नोटिस एक अवैध बैंकिंग ट्रांजेक्शन के मामले में भेजा है। दरअसल, मुंबई में रवि के नाम और पते पर एक्सिस बैंक में एक फर्जी खाता खोला गया। आयकर विभाग के मुताबिक इस खाते से साल 2011 में 132 करोड़ रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ था। 

आयकर विभाग का नोटिस आने के बाद रवि ने जब स्थानीय कार्यालय में संपर्क किया तो किसी ने भी उसकी बात नहीं सुनी। उसने आयकर विभाग को बताया कि बैंक खाता उसका नहीं है। रवि गुप्ता ने आयकर अधिकारियों को अपनी सैलरी भी बताई, अन्य जानकारियां भी उपलब्ध कराईं, लेकिन आयकर अधिकारी कुछ सुनने को तैयार नहीं हैं। उसे लगातार नोटिस भेजा जाता रहा। 

रवि ने बताया कि बैंक में जिस पते पर खाता खोला गया है, वह टिया ट्रेडर्स 7/ए, जीआरडी धन मैंसन, गजधर रोड, सी वार्ड, एसएस रोड, मुंबई, महाराष्ट्र है। जबकि उसका असल पता गल्ला मंडी, मिहोना (भिंड) और वर्तमान निवास भगवन नगर, धोलेवाल, लुधियाना है। वह वर्तमान में लुधियाना में नौकरी कर रहा है। आयकर अधिकारियों का रवि से कहना है कि वह मुंबई जाकर ही इस संबंध में शिकायत करे।