CM योगी बोले- चाहे अनुराग कश्यप हों या कोई और ,हमने खैरात बांटना बंद कर दिया है


उत्तर प्रदेश में गंगा यात्रा (27 से 31 जनवरी) की शुरुआत हो चुकी है. इस मौके पर सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आजतक से खास बातचीत की. सीएम योगी ने कहा कि मां गंगा के प्रति दायित्वों को लेकर नमामि गंगे शुरू हुआ है. आजादी के बाद मां गंगा के प्रति सबसे ज्यादा ईमानदारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिखाई है. योगी ने कहा कि गंगा यात्रा का उद्देश्य जागरूकता पैदा करना है.


सीएम योगी ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ यूपी में मचे बवाल पर कई बड़ी बातें कहीं. उन्होंने कहा कि सरकारी संपत्तियों की रक्षा करना मेरा दायित्व है. फिर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने पर हम क्यों मौन रहें? उन्होंने कहा कि चंद लोग लूट-पाट करें, तोड़-फोड़ करें, इसकी इजाजत हम नहीं दे सकते. जो भी पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाएगा, उससे वसूली की जाएगी.


योगी ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि नेहरू-लियाकत ने अल्पसंख्यकों की रक्षा का समझौता किया था, लेकिन पाकिस्तान के हिंदू कहां गए, क्या उनका कोई मानवाधिकार नहीं है. अब CAA का विरोध करने वाले लोग बेनकाब हो गए हैं. योगी ने कहा कि जो हिंदू शरणार्थी आए, उनमें 75 प्रतिशत दलित हैं. क्या उनको नागरिकता ना दें?


CAA हिंसा के प्रयास में ये शामिल थे


सीएम योगी ने कहा कि यूपी में CAA हिंसा के प्रयास में कांग्रेस, सपा, वामपंथ से जुड़े लोग शामिल थे. वे दंगाई थे, उपद्रवी थे. उन्होंने पुलिस पर फायरिंग की थी. अवैध असलहों से हुई फायरिंग में ज्यादातर मौतें हुई हैं. इन उपद्रवियों ने पुलिस और पब्लिक को निशाना बनाया था.


विभाजनकारी शक्तियों के साथ शासन नहीं रहेगा


योगी ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण की पूरी तैयारी है. राम मंदिर के निर्माण को लेकर कहीं कोई विवाद नहीं है. राम मंदिर को लेकर काम अंतिम चरणों में है. जब योगी से पूछा गया कि बॉलीवुड में बहुत से लोग आप से नाराज हैं तो इस पर योगी ने कहा कि हमने खैरात बांटना बंद कर दिया है. चाहे वो अनुराग कश्यप हों या कोई भी हो. योगी ने कहा कि जो प्रेरणादायी काम कर सकें, उनके लिए हम काम करेंगे. विभाजनकारी शक्तियों को शासन का साथ नहीं मिलेगा.