कोटा पीड़ितों से आप क्यों नहीं मिलीं ,मायावती के बयान पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पलटवार


कोटा अस्पताल में बच्चों की मौत के मामले में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती के बयान पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पलटवार किया है. प्रियंका गांधी ने कहा कि मायावती को निकलना चाहिए और कोटा पीड़ितों के परिजनों से मिलना चाहिए.


समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार प्रियंका ने कहा कि मैंने इस मसले पर भी विस्तार से जानकारी ली है. कांग्रेस नेताओं के एक दल ने भी अधिक जानकारी के लिए कोटा का दौरा किया है. कांग्रेस की महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी मुजफ्फरनगर में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पुलिसिया कार्रवाई की जद में आए लोगों के परिजनों से मुलाकात के बाद सवालों के जवाब दे रही थीं.


मायावती ने प्रियंका गांधी पर तंज कसते हुए कहा था कि जिस तरह प्रियंका गांधी यूपी हिंसा के पीड़ितों से मिल रही हैं ऐसे ही कोटा अस्पताल में मरने वाले बच्चों के परिजनों से मुलाकात करनी चाहिए. बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि यदि वह कोटा में मरने वाले बच्चों के परिजनों से मिलने नहीं जाती हैं तो उत्तर प्रदेश में उनकी सक्रियता को केवल राजनीति माना जाएगा.



 


बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून लागू होने के बाद से पूरे देश में विरोध- प्रदर्शन हो रहे हैं. प्रदर्शन के दौरान कई स्थानों पर हिंसक घटनाएं भी हुईं. उत्तर प्रदेश इससे सर्वाधिक प्रभावित राज्यों में रहा और सूबे दर्जनभर लोगों की जान चली गई. प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में लगातार सक्रिय हैं. वह बिजनौर में प्रदर्शन के दौरान जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों से भी मिली थीं.