लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने किया राष्ट्रमंडल संसदीय संघ भारत क्षेत्र का उद्घाटन


लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला बृहस्पतिवार को यहां विधानभवन के मुख्य मंडप में राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (सीपीए) भारत क्षेत्र के सातवें सम्मेलन का उद्घाटन किया। जिसके बाद मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने उद्घाटन सत्र को विशिष्ट अतिथि के रूप में संबोधित किया।


 

उद्घाटन सत्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी समेत विधानमंडल के मौजूदा और पूर्व सदस्य शामिल हुए। दो दिवसीय सम्मेलन का समापन राज्यपाल आनंदीबेन पटेल 17 जनवरी को करेंगी।

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने बुधवार को सेंट्रल हॉल में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि उत्तर प्रदेश को पहली बार सीपीए इंडिया रीजन के सम्मेलन की मेजबानी का अवसर मिला है। सीपीए इंडिया जोन के अध्यक्ष, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला हैं। इस सम्मेलन की थीम है, जनप्रतिनिधियों की भूमिका।

ओम बिड़ला बुधवार को दोपहर बाद लखनऊ पहुंच गए। शाम को उन्होंने सीपीए इंडिया जोन की कार्यकारिणी बैठक में हिस्सा लिया। यूपी के विधानसभा अध्यक्ष समेत कार्यकारिणी में 10 सदस्य हैं। विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि उद्घाटन सत्र के बाद 16 व 17 जनवरी को दो अलग-अलग पूर्ण सत्र होंगे।


इन मुद्दों पर सत्रों में होगी चर्चा



पहले सत्र का विषय है, बजट प्रस्तावों की समीक्षा के लिए जनप्रतिनिधियों की क्षमता बढ़ाना। इस सत्र में राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश मुख्य भाषण देंगे। दूसरे सत्र का विषय होगा, जनप्रतिनिधियों का ध्यान विधायी कार्यों की ओर बढ़ाना। इस सत्र में केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी मुख्य भाषण देंगे।

सम्मेलन में देश भर से लगभग 100 प्रतिनिधि भाग लेंगे। प्रेक्षक के रूप में ऑस्ट्रेलिया व मलयेशिया के एक-एक प्रतिनिधि बुधवार को ही लखनऊ पहुंच गए। सम्मेलन में दो सांसदों भाजपा के सुधांशु त्रिवेदी व बसपा के रितेश पांडेय को भी बोलने का मौका मिलेगा।