पादरी ने लगाया गंभीर आरोप,केरल में लड़कियों को फंसाकर भेजा जाता है सीरिया और अफगान


 


केरल में कैथोलिक चर्च के एक वरिष्ठ पादरी ने राज्य की वाममोर्चा सरकार पर लव जिहाद को मूक अनुमति देने का आरोप लगाया है। पादरी का कहना है कि राज्य सरकार लव जिहाद के मामलों की अनदेखी कर रही है। लव जिहाद में लड़कियों को फंसाकर उन्हें युद्धग्रस्त देशों में भेजा जा रहा है और जहां उनका 'सेक्स स्लेव' की तरह इस्तेमाल किया जाता है।


सायरो-मालाबार चर्च के विशप ने लव जिहाद का मामला उठाया था जिसे राज्य सरकार ने खारिज कर दिया। राज्य सरकार के इस रवैये की केरल कैथोलिक बिशप कौंसिल (केसीबीसी) ने आलोचना की है। केसीबीसी के प्रवक्ता फादर वर्गीज वल्लिकट्ट ने कहा कि राज्य से गुमशुदा महिलाओं और बच्चों के मामलों की राज्य और केंद्र सरकारें सही तरीके से जांच नहीं करा रही है। केसीबीसी राज्य के कैथोलिक बिशप की शीर्ष संस्था और सायरो-मालाबार चर्च के प्रमुख कार्डिनल जॉर्ज एलनचेरी इस समय उसके अध्यक्ष हैं।