शरीर को क्यों नुकसान पहुचाता है?खाना खाने के साथ पानी पीना


आप जितना पानी पीते हैं आपके शरीर को उतना ही फायदा होता है। इसी वजह से डॉक्टर दिनभर में भरपूर मात्रा में पानी पीने की सलाह देते हैं। लेकिन इसके साथ ही आपने सुना होगा कि खाने के साथ पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से सेहत पर नकारात्मक असर पड़ सकता है। आयुर्वेद में खाने के फौरन बाद पानी पीने को बेहद खराब बताया गया है। आयुर्वेद में बताया जाता है कि खाने के फौरन बाद पानी पीना जहर पीने के बराबर है, क्योंकि इसका असर सीधे आपके पाचन तंत्र पर पड़ता है और अगर पाचन तंत्र ठीक नहीं रहता है तो इंसान को कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं।


दरअसल हम जो भोजन करते है वह नाभि के बाये हिस्से में स्थित जठराग्नि में जाकर पचता है। जठराग्नि एक घंटे तक खाना खाने के बाद प्रबल रहती है। खाना खाने के बाद तुरंत पानी पीने से जठराग्नि शांत हो जाती है जिसका सीधा असर पाचन पर पड़ता है। इसलिए हमेशा खाना खाने के कुछ देर बाद पानी पीने की सलाह दी जाती है। आर्युवेद कहता है कि हम जो खाना खाते हैं जठराग्नि उसे पचान में मदद करती है लेकिन अगर खाते ही पानी पी लिया जाए तो यह शांत हो जाती है और खाना सही से पच नहीं पाता है।


ऐसे में खाना खाते ही फौरन पानी पीने से पाचन तंत्र तो कमजोर होता ही है साथ ही में आपको गैस से लेकर सीने में जलन तक की कई समस्याएं हो सकती हैं। आर्युवेद में यहां तक कहा जाता है कि खाने के फौरन बाद पानी पीने से आपको त्वचा संबंधी रोग भी हो सकते हैं।