वसंत रायजी ने पूरा किया उम्र का शतक


भारत के सबसे उम्रदराज प्रथम श्रेणी क्रिकेटर वसंत रायजी ने रविवार को अपनी जिंदगी का शतक पूरा किया. दाएं हाथ के बल्लेबाज रायजी 100 साल के हो गए हैं. उन्होंने 1940 के दशक में नौ प्रथम श्रेणी मैच खेले थे जिसमें 277 रन बनाए थे. उनका उच्चतम स्कोर 68 रन था.


इतिहासकार रायजी तब 13 साल के थे, जब भारत ने दक्षिण मुंबई के बांबे जिमखाना में पहला टेस्ट मैच खेला था. वह भारतीय क्रिकेट की संपूर्ण यात्रा के गवाह रहे हैं. वह बंबई (अब मुंबई) और बड़ौदा के लिए खेला करते थे.


दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर हाल में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ के साथ रायजी से मिलने के लिए गए थे. तेंदुलकर ने ट्विटर पर लिखा, ‘आपको 100वें जन्मदिन की शुभकामनाएं श्री वसंत रायजी. स्टीव और मैंने आपके साथ बहुत अच्छा समय बिताया और अतीत की कुछ अद्भुत क्रिकेट कहानियां सुनीं. हमारे प्यारे खेल के बारे में यादों का खजाना आगे तक पहुंचाने के लिए आपका आभार.’


रायजी ने लाला अमरनाथ, विजय मर्चेंट, सीके नायडू और विजय हजारे के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया है. उन्होंने कई किताबें लिखी हैं.