येरूशलम बनी रहेगी इस्राइल की राजधानी,ट्रंप ने पेश की अपनी शांति योजना


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को फिर से कहा कि येरूशलम शहर इस्राइल की अविभाजित राजधानी बना रहेगा। ट्रंप ने यह बात इस्राइल-फलस्तीन विवाद को हल करने के लिए अपनी बहुप्रतीक्षित ‘मध्यपूर्व (पश्चिम एशिया) शांति योजना’ का खाका पेश करते हुए कही। 


व्हाइट हाउस में इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू की मौजूदगी में अपनी इस योजना को पेश करते हुए कहा, इस्राइल शांति की दिशा में ‘विशाल कदम’ उठाने जा रहा है। उन्होंने कहा, मेरी योजना के तहत येरूशलम इस्राइल की अविभाजित, बेहद अहम राजधानी बनी रहेगी। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, मेरी योजना एक यथार्थवादी दो-राष्ट्र समाधान पेश करती है।

उन्होंने पूर्वी येरूशलम में फलस्तीनी राजधानी बनाए जाने का प्रस्ताव पेश किया। अपनी योजना को ‘डील ऑफ द सेंचुरी (सदी का सबसे बड़ा सौदा)’ करार देते हुए ट्रंप ने कहा, यह उनके (फलस्तीनियों) लिए आखिरी मौका हो सकता है। उन्होंने कहा, फलस्तीनी कहीं ज्यादा बेहतर जिंदगी के हकदार हैं।