डुमरियागंज के विधायक राघवेंद्र सिंह और सिद्धार्थनगर के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष को जान से मारने की धमकी देने वाला बीटेक छात्र गिरफ्तार




डुमरियागंज के विधायक राघवेंद्र सिंह और सिद्धार्थनगर के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष को जान से मारने की धमकी देकर 10 लाख रुपये की फिरौती मांगने वाले बीटेक छात्र को साइबर क्राइम की टीम ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है।
 

साइबर क्राइम के एसपी रोहन पी कनय ने बताया कि विधायक के मोबाइल नंबर पर विदेश के नंबरों से सुपारी लेकर हत्या की धमकी मिल रही थी। विधायक के साथ रहने वाले अभिनव शाही ने डुमरियागंज थाने में इसकी एफआईआर दर्ज कराई थी।

इसी तरह एक और शिकायत सिद्धार्थनगर के ही ढेबरुआ थाने में दर्ज की गई थी जिसमें वहां के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष को भी धमकी देकर पैसों की मांग की गई थी। इस मामले में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के बेटे सिद्धांत चौधरी ने मुकदमा दर्ज कराया था।


एसपी ने साइबर क्राइम यूनिट से मांगी थी मदद


एसपी सिद्धार्थनगर विजय ढुल ने इस मामले में साइबर क्राइम यूनिट से मदद मांगी थी। इस पर साइबर क्राइम थाने की एक टीम गठित कर डाटा इकट्ठा किया गया। डाटा के आधार पर लखनऊ में चिनहट के कमता चौराहे के पास से अर्पित सिंह को मोबाइल समेत गिरफ्तार कर लिया।

अर्पित ने बताया कि वह बीटेक का छात्र है। उसने कुबूल किया कि ऑनलाइन विदेशी नंबरों को जनरेट करने का तरीका सीख कर व्हाट्स एप से कॉल करके जान से मारने की धमकी देकर 10 लाख रुपये की मांग की थी। अर्पित लखनऊ के गाजीपुर थाना क्षेत्र के राजवीर नगर का रहने वाला है।