एमडीएम के लिए भगोने में तुरंत तैयार कर रखी सब्जी में तीन वर्षीय मासूम के गिरकर झुलसने व बाद में मौत


एमडीएम के लिए भगोने में तुरंत तैयार कर रखी सब्जी में तीन वर्षीय मासूम के गिरकर झुलसने व बाद में मौत का मामला आया है। मिर्जापुर जिले के लालगंज थाना क्षेत्र के रामपुर अतरी गांव के प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय में हुई घटना से हड़कंप मच गया है। एमडीएम का भोजन परोसते समय तीन वर्षीय बच्ची गर्म सब्जी से लबालब भरे भगोना में गिरने से झुलस गई।


सोमवार सुबह अपने भाई गणेश के साथ तीन वर्षीय आंचल पुत्री भागीरथी प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने गई थी। दोपहर साढ़े 12 बजे एमडीएम का खाना परोसने के लिए रसोइया गर्म सब्जी से भरा भगौना बाहर रख अंदर चली गई। उसी समय बच्चों के खेल कूद और धक्का मुक्की से अबोध बालिका सब्जी के भगौने में गिर पड़ी।

लोगों का कहना है कि यह नजारा देख सभी रसोइयां वहां से भाग खड़ी हुईं। संयोग ही रहा कि वहा मौजूद सहायक अध्यापक नवनीत कुमार वर्मा ने बालिका को बाहर निकाल कर निजी साधन से इलाज हेतु निजी स्वास्थ्य केंद्र दीपनगर भेजा। जहां 80 प्रतिशत झुलसा देख तत्काल डॉक्टर ने मंडलीय अस्पताल रेफर कर दिए। बाद में मासूम की मौत हो गई।




प्राथमिक विद्यालय व पूर्व माध्यमिक विद्यालय का एक साथ होने के कारण यूपीएस के प्रधानाध्यापक संतोष कुमार यादव ही चार्ज पर हैं। जहां सहायक अध्यापक के तौर पर नवनीत कुमार वर्मा अनुदेशक अर्जुन जबकि प्राथमिक विद्यालय में चार शिक्षामित्र कुसुम देवी, गायत्री देवी, ममता सिंह, कविता सिंह की नियुक्ति है।

प्राथमिक विद्यालय में कुल 116 के सापेक्ष 43 व पूर्व माध्यमिक विद्यालय में 172 के सापेक्ष 82 बच्चे ही उपस्थित थे। इनके मध्यान भोजन के लिए छह रसोइया लीलावती देवी, कमलावती देवी, सोना देवी, मोना देवी, रीता देवी, नगीना देवी रखी गई है।





घायल के पिता भूमि विकास बैंक लालगंज में चतुर्थश्रेणी कर्मचारी व मां पुनीता देवी घर का कामकाज कर अपने बच्चों का पेट पालती है। इनके तीन बच्चे सात वर्षीय गणेश, पांच वर्षीय हिमांशु सबसे छोटी पुत्री तीन वर्षीय आंचल है।

घायल पुत्री के पिता ने आरोप लापरवाही का आरोप लगाया है। बच्ची के पिता ने कहा कि हम चाहते हैं कि 24 घंटे के भीतर मामले की जांच कर दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। वही खंड शिक्षा अधिकारी राममिलन यादव ने बताया कि शिक्षा विभाग परिजनों के साथ है।  मामले की जांच कर जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।