नशे में धुत चालक न प्रदर्शनकारी छात्रों पर कार चढ़ाने की कोशिश


दिल्ली के जामिया विश्वविद्यालय के बाहर रविवार(दो फरवरी) देर रात हुई फायरिंग के बाद गेट नंबर सात बाहर प्रदर्शन कर रहे छात्रों को एक कार ने कुचलने की कोशिश की। कार ने वहां मौजूद बैरिकेड तोड़ दिए। जानकारी के अनुसार रविवार रात करीब 11.30 बजे जामिया के बाहर गोली चली थी और फिर कार द्वारा छात्रों को कुचलने का प्रयास रात करीब 2.30 बजे किया गया।


 बीते डेढ़ महीने से(15 दिसंबर से) जामिया के छात्र विश्वविद्यालय के बाहर सीएए के खिलाफ और जामिया कैंपस के अंदर हुई पुलिस की बर्बरता के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका यह प्रदर्शन सोमवार(तीन फरवरी) को भी जारी है।

इससे पहले रविवार रात जब छात्र प्रदर्शन कर रहे थे तब रात करीब 2.30 बजे कार में सवार दो युवक वहां आए और बैरिकेड तोड़कर प्रदर्शनकारी छात्रों पर कार चढ़ाने की कोशिश की। छात्रों का आरोप है कि ये दोनों नशे में धुत थे। छात्रों ने इन दोनों आरोपियों को पकड़कर इन्हें पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिस ने क्षतिग्रस्त कार को अपने कब्जे में ले लिया है। छात्रों का आरोप है कि नशे में धुत दोनों आरोपियों ने प्रदर्शनकारी छात्रों को अपशब्द भी कहे और ये भी कहा कि देशविरोधी लोग हैं।


जामिया मिल्लिया के बाहर देर रात अज्ञात युवकों ने की फायरिंग



सीएए के विरोध में प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ गोली चलाने की दो घटनाओं के बाद रविवार देर रात जामिया इस्लामिया के गेट नंबर 5 पर स्कूटी सवार दो अज्ञात युवकों ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर फायरिंग कर दी।

हालांकि गोली किसी को लगी नहीं,  लेकिन इससे मौके पर दहशत और अफरा-तफरी का माहौल बन गया। जब तक प्रदर्शनकारी छात्र कुछ समझ पाते स्कूटी सवार फरार हो गए। इस घटना के विरोध में छात्रों ने जामियानगर थाने का घेराव कर लिया और गोली चलाने वालों को गिरफ्तार करने की मांग पर अड़ गए।

हालांकि पुलिस अधिकारियों ने गोली चलने की घटना की पुष्टि नहीं की है। छात्रों ने बताया कि स्कूटी चला रहे लोगों ने लाल रंग की जैकेट पहन रखी थी। स्कूटी का नंबर 1532 बताया जा रहा है।

वहीं, घटना की सूचना पर मौके पर पुलिस बल भी पहुंच गया। थाने के बाहर लगातार छात्रों की भीड़ बढ़ती जा रही थी और वे दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।