IPL के दौरान मदद करेगा न्यूजीलैंड बोर्ड अपने खिलाड़ियों की , देगा ताजा जानकारी

दुनियाभर में विकराल रूप ले चुके और तेजी से फैल रहे कोरोनावायरस का साया अब भारत की टी-20 लीग 'आईपीएल' पर भी मंडराने लगा है। इसी महीने के अंत में शुरू होने और डेढ़ महीने तक चलने वाले आईपीएल में दुनियाभर के क्रिकेटर भाग लेंगे, ऐसे में अब क्रिकेट बोर्ड भी इसे लेकर चिंतित दिखने लगे हैं। फिलहाल न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने भारतीय लीग में हिस्सा ले रहे छह कीवी खिलाड़ियों को मदद मुहैया कराने का फैसला किया है।

 


आईपीएल में कीवी खिलाड़ियों को मिलेगी मदद



बोर्ड ने तय किया है कि वे पूरे आईपीएल के दौरान अपने खिलाड़ियों को कोरोनावायरस से जुड़ी हर तरह की जानकारी और अपडेट्स मुहैया कराएगा। बोर्ड के अधिकारी के मुताबिक वे लगातार विदेश, स्वास्थ और खेल मंत्रालय के संपर्क में हैं और हालात पर नजर रखें हुए हैं।




आईपीएल पर नहीं है कोरोना का खतरा



फिलहाल बीसीसीआई ने आईपीएल के आयोजन को लेकर पहले ही कह दिया है कि टूर्नामेंट अपने तय समय के मुताबिक ही होगा, हालांकि अभी आईपीएल को लेकर भारतीय क्रिकेट बोर्ड द्वारा विदेशी खिलाड़ियों के लिए एडवाइजरी जारी होना बाकी है।




विलियमसन समेत छह खिलाड़ी ले रहे हैं भाग



आईपीएल में इस साल न्यूजीलैंड के कुल छह खिलाड़ी हिस्सा खेलेंगे। इसमें केन विलियम्सन (सनराइजर्स हैदराबाद), जिम्मी नीशाम (किंग्स इलेवन पंजाब), लॉकी फर्ग्युसन (केकेआर), मिशेल मैक्लाघन, ट्रेंट बोल्ट (मुंबई इंडियंस) और मिशेल सेंटनर (चेन्नई सुपर किंग्स) का नाम शामिल है। 




कोरोना का असर



बता दें कि कोरोना वायरस ने दुनियाभर को प्रभावित किया है, जिसकी वजह से हर कोई चिंतित है और सतर्कता बरत रहा है। चीन से शुरू हुआ यह वायरस दुनियाभर में 70 से अधिक देशों में फैल चुका है, जिसमें तीन हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है और 90 हजार से अधिक लोग प्रभावित हैं। इस वायरस की वजह से आम जनजीवन के अलावा इसका असर खेलों पर भी पड़ा है, कई अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों को या तो रद्द करना पड़ा है, या फिर उनकी तारीखों को आगे बढ़ाना पड़ा है।