कोरोना से भारत में 93 संक्रमित,चार देशों से जुड़ी जमीनी सीमाएं आज होंगी सील

दुनिया भर में कहर बरपा रहा कोरोना वायरस धीरे-धीरे भारत में भी पैर पसार रहा है। अधिकतर राज्यों में जहां इसे लेकर सावधानी बरतते हुए जनसभाओं आदि पर रोक लगा दी गई है। साथ ही सिनेमा हॉल व शिक्षण संस्थान बंद कर दिए गए हैं। वहीं, बाहरी देशों से कोरोना संक्रमण न फैले इसके लिए भारत सरकार ने पड़ोसी देशों की सीमाएं बंद कर दी हैं। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को कहा है कि कोराना वायरस महामारी के प्रसार को देखते हुए पांच पड़ोसी देशों की सीमाओं पर आवागमन बंद किया जा रहा है। साथ ही इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सार्क देशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करेंगे। वहीं, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताया कि ईरान में फंसे 234 भारतीय नागरिक वापस भारत ले आए गए हैं।
 स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में अभी कोरोनावायरस से 93 संक्रमित हैं जिसमें 17 विदेशी नागरिक हैं। मंत्रालय के अनुसार 10 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, जबकि दो की मौत हो चुकी है।


 बांग्लादेश, नेपाल, भूटान और म्यामांर की सीमाओं पर 15 मार्च की आधी रात से, जबकि पाकिस्तान सीमा पर 16 मार्च की आधी रात से सड़क यातायात अगले आदेशों तक बंद कर दिया जाएगा। हालांकि सीमा की कुछ चेकपोस्ट पर आवाजाही को एहतियाती उपायों व जांच के साथ चालू रखा जाएगा। भारत-बांग्लादेश के बीच अंतरराष्ट्रीय ट्रेन व बस सेवाएं भी 15 अप्रैल तक बंद रहेंगी।

कोरोना वायरस देश के लिए आपदा घोषित


देश में कोरोना वायरस से दूसरी मौत होने और अब तक 85 पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने महामारी के हालात को राष्ट्रीय स्तर पर आपदा घोषित कर दिया है। गृहमंत्रालय के मुताबिक, यह तकनीकी तौर पर ‘अधिसूचित आपदा’ है। इससे राज्यों को महामारी से लड़ने के लिए कई वित्तीय और जरूरी फैसले लेने के अधिकार मिलते हैं। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुताबिक, आपदा घोषित होने के बाद संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में रखने और उसके इलाज का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। राज्य सरकारें अगले 30 दिन तक कोरोना का प्रसार रोकने के लिए राज्य कार्यकारिणी गठित कर संबंधित फैसले लेंगी। इस दौरान किसी व्यक्ति में लक्षण मिलने पर उसे अलग-थलग करने, सैंपल लेने और जांच पर आने वाला खर्च राज्य सरकार उठाएगी। कार्यकारिणी 30 दिन की समयसीमा बढ़ा सकती है। आपदा घोषित होने के बाद राज्यों को फैसला लेने के लिए केंद्र की मंजूरी की जरूरत नहीं होगी।

आज सार्क देशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग
कोरोना से निपटने के लिए दक्षिण एशियाई देशों के बीच सहयोग बढ़ाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल पर रविवार शाम पांच बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग होगी। इसमें पाकिस्तान समेत दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के सभी देश शामिल होंगे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक इस चर्चा में पीएम मोदी भारत की ओर से शिरकत करेंगे। इस दौरान क्षेत्र में कोरोना से निपटने के लिए साझा रणनीति बनेगी।

कोरोना वायरस: मध्य, पश्चिमी रेलवे ने एसी डिब्बों से पर्दे और कंबल हटवाए
कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए मध्य और पश्चिमी रेलवे ने शनिवार को एसी डिब्बों से पर्दे और कंबल निकालने के आदेश जारी किए क्योंकि ये प्रतिदिन नहीं धुलते हैं। हालांकि, चादर, तौलिए और गिलाफ सहित बेड रोल के अन्य सामान प्रत्येक इस्तेमाल के बाद धोए जाते हैं।

पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता गजानन महतपुरकर ने बताया कि मौजूदा निर्देशों के अनुसार एसी डिब्बों में दिए गए पर्दे और कंबल हर यात्रा के बाद नहीं धोए जाते हैं। कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए अगले आदेश तक कंबल और पर्दे तुरंत हटा लिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि यात्रियों को अपना कंबल लाने की सलाह दी जाएगी। किसी भी समस्या के लिए कुछ अतिरिक्त चादरें रखी जाएंगी। मध्य रेलवे ने सभी डिब्बों को अच्छी तरह साफ-सुथरा करने का निर्देश दिया है। ये हर दिन हजारों यात्रियों के संपर्क में आते हैं।


संक्रमण होने पर भी 100 में से 80 को कुछ नहीं होगा


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आने वाले 100 में से 80 लोगाें को कुछ नुकसान नहीं होगा। हालांकि उन्होंने यह कहते हुए भी आगाह किया कि इसकी चपेट में आए दो प्रतिशत लोगों की जान जा सकती है। इसकी वजह बताई कि कोरोना वायरस नया है। इसके बारे में बहुत कम जानकारियां हैं। सावधानी जरूर बरतें।

दिल्ली और उत्तर प्रदेश में मिले नए मरीज




स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, शनिवार को दिल्ली और उत्तर प्रदेश में एक-एक पॉजिटिव मिला है। इसके साथ ही संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 84 हो गई है। तेलंगाना और महाराष्ट्र के स्वास्थ्य अधिकारियों ने यहां एक-एक केस की पुष्टि की है, हालांकि पुणे लैब से रिपोर्ट आनी बाकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के विशेष सचिव संजीव कुमार ने बताया, दिल्ली में सात, यूपी में 11, केरल में 19, महाराष्ट्र में 14, कर्नाटक में 6, लद्दाख में 3, जम्मू-कश्मीर में दो, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु में एक-एक केस मिला है। कुल मरीजों में 17 विदेशी हैं, जिनमें इटली के 16 और कनाडा का एक नागरिक है। वहीं, 10 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि दिल्ली और कर्नाटक में एक-एक की मौत हुई है।

बीसीसीआई ने टाले सभी घरेलू मैच


अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने प्रो लीग मैचों को 15 अप्रैल तक टाल दिया और बीसीसीआई ने भी ईरानी ट्रॉफी सहित सभी घरेलू मैच स्थगित कर दिए हैं। वहीं, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र व पश्चिम बंगाल ने भी सभी शिक्षण संस्थान 31 मार्च तक बंद कर दिए।

संसद में आम लोगों को प्रवेश नहीं


कोरोना के खतरे के मद्देनजर संसद में आम लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। लोकसभा सचिवालय ने शनिवार को पब्लिक गैलरी पास व संसद परिसर अवलोकन पास रद्द कर दिया। अगले आदेश तक यह व्यवस्था लागू रहेगी।

संघ की प्रतिनिधि सभा बैठक स्थगित


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने बंगलूरू में 15 से 17 मार्च तक होने वाली अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक स्थगित कर दी है। संघ के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने कहा, कोरोना की गंभीरता और केंद्र तथा राज्य सरकारों के निर्देशों को देखते हुए बैठक स्थगित की गई है। जोशी ने स्वयंसेवकों से कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन की मदद करने व लोगों को जागरूक करने को कहा।

पद्म पुरस्कार समारोह टला


केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के कारण राष्ट्रपति भवन में तीन अप्रैल को होने वाले पद्म पुरस्कार समारोह को अगली तारीख घोषित किए जाने तक टाल दिया है। 

दुनियाभर में स्वामीनारायण मंदिर बंद





 



स्वामीनारायण मंदिर प्रबंधन ने एहतियातन दुनियाभर में अपने सभी मंदिरों को बंद करने का एलान किया है। अगले आदेश तक सभी मंदिर बंद रहेेंगे और दैनिक गतिविधियां भी नहीं होंगी।

इन्फोसिस ने खाली कराई इमारत


एक कर्मचारी के कोरोना के संदिग्ध के संपर्क में आने के बाद आईटी कंपनी इन्फोसिस ने बंगलूरू स्थित सैटेलाइट ऑफिस की इमारत को खाली करा लिया। कंपनी के अधिकारी ने कहा, हमने एहतियातन इमारत खाली कराया है। इमारत को सैनिटाइज कर रहे हैं।

महाराष्ट्र : मधुमेह के कारण गई संदिग्ध की मौत





 



महाराष्ट्र के बुलढाणा अस्पताल में कोरोना वायरस के संदिग्ध की मौत पर डॉक्टरों ने बताया है कि उसकी मौत मधुमेह के चलते हुई है। उसे बीपी की भी समस्या थी। महाराष्ट्र सरकार ने 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज और अन्य शैक्षिक संस्थान बंद रखने का आदेश दिया है। 

महाराष्ट्र के शहरी क्षेत्रों के सभी स्कूल (नगर पंचायत, नगर पालिका, महानगर पालिका के अधिकार क्षेत्र में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल) 31 मार्च तक बंद रहेंगे। केवल कक्षा 10वीं, 12वीं और विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं ही तय समय के अनुसार आयोजित की जाएंगी।

सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग महाराष्ट्र ने जानकारी दी है कि पिंपरी-चिंचवाड़ में पांच और लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। जिससे अब पुणे में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 15 हो गई है और महाराष्ट्र में कुल 31 संक्रमित हो गए हैं।

महाराष्ट्र : खराब सैनिटाइजर बेचते तीन गिरफ्तार


पुणे पुलिस ने शनिवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया। ये लोग कोरोनावायरस के प्रसार का फायदा उठाते हुए खराब मानक वाले सैनिटाइजर बेच रहे थे। तीनों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

बालाजी मंदिर में प्रतीक्षा प्रणाली पर रोक





 



आंध्र प्रदेश में तिरुमाला स्थित बालाजी मंदिर की प्रशासनिक इकाई तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम ने कोरोनावायरस को देखते हुए भक्तों के लिए प्रतीक्षा प्रणाली को अस्थायी रूप से रोक दिया है। भक्तों को दर्शन के लिए विभिन्न समय के हिसाब से टोकन दिए जाएंगे।

ओडिशा : फेक न्यूज फैलाने वाला गिरफ्तार


ओडिशा के रायगढ़ में एक व्यक्ति को सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस से संबंधित फर्जी समाचार पोस्ट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कहा, आरोपी ने फेसबुक पर पोस्ट किया था कि एक संक्रमित व्यक्ति को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जांच में यह समाचार फर्जी पाया गया।

तेलंगाना : 31 तक सभी शिक्षण संस्थान बंद


तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा कि 15 मार्च यानी आज से कोचिंग सेंटर समेत सभी शिक्षण संस्थान 31 मार्च तक बंद रहेंगे। ऐसा न होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। एसएससी, इंटरमीडिएट और अन्य बोर्ड परीक्षाएं तय व्यवस्था से ही होंगी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा, जनसभाएं, सेमिनार, कार्यशालाएं, रैलियां, प्रदर्शनियां, सांस्कृतिक कार्यक्रम और अन्य जन कार्यक्रमों को भी आज से अनुमति नहीं दी जाएगी। सिनेमा हॉल, पब, क्लब और बार भी आज से बंद रहेंगे।

छत्तीसगढ़ : 31 तक बंद रहेंगे सिनेमा हॉल


छत्तीसगढ़ में भी कोरोना वायरस को देखते हुए 31 मार्च तक सभी सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स को बंद रखने का फैसला लिया गया है।

असम में कोरोना का अब तक कोई मामला नहीं





 



असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति का विस्तृत आकलन किया। सोनोवाल ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। राज्य को इससे बचाए रखने के लिए सतर्कता और बचाव बहुत जरूरी है। इसके साथ ही असम सरकार ने शिवसागर जिले में नाम कीर्तन, भाओना, गीता पाठ जैसे सभी जनसभा वाले कार्यक्रमों पर भी तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।

वहीं, असम सरकार के शिक्षा विभाग के आयुक्त और सचिन ने आदेश दिया है कि कोरोना वायरस के चलते सभी स्कूल, कॉलेज, उच्च शिक्षण संस्थानों आदि में सुबह की प्रार्थना नहीं की जाएगी और न ही किसी तरह की प्रदर्शनी आदि का आयोजन किया जाएगा।

मैत्री और बंधन एक्सप्रेस ट्रेन 15 अप्रैल तक बंद





 



कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए भारत-बांग्लादेश के बीच चलने वाली मैत्री व बंधन एक्सप्रेस ट्रेन नहीं चलेगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी कर इस ट्रेन को एक महीने तक नहीं चलाने का निर्णय लिया है। भारतीय रेलवे ने कहा है कि गृह मंत्रालय की एडवाइजरी मानते हुए भारत और बांग्लादेश के बीच चलने वाली यात्री रेल सेवा को एक महीने तक के लिए रोका जा रहा है। 

दोनों देशों को रेलवे के माध्यम से जोड़ने वाली ट्रेन 15 मार्च से 15 अप्रैल तक नहीं चलेगी। दोनों देशों के बीच यात्री बस सेवा भी 15 अप्रैल तक बंद रहेगी। हालांकि, मालगाड़ी पर अभी रोक लगाने का निर्णय नहीं लिया गया है। दोनों देशों से आयात व निर्यात मालगाड़ी से होता रहेगा। भारत की कंटनेर सर्विस कॉनकोर और बांग्लादेश की सीसीबीएल एग्रीमेंट के तहत पेट्रोलियम पदार्थों की आवाजाही दोनों देशों के बीच होती है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेबर फर्स्ट नीति के तहत भारत-बांग्लादेश के साथ रेल संपर्क को और ज्यादा मजबूत किया जा रहा है। कोलकाता और बांग्लादेश के खुलना शहर के बीच बंधन एक्सप्रेस ट्रेन चलती है। कोलकाता से ढाका के बीच मैत्री एक्सप्रेस चल रही है।

यात्रा के लिए खुद लाएं अपना कंबल : पश्चिम रेलवे  


पश्चिम रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी ने कहा कि मौजूदा निर्देशों के अनुसार, एसी कोचों में प्रदान किए जाने वाले पर्दे और कंबल हर यात्रा के बाद धोए नहीं जाते हैं। कोरोनावायरस के फैलाव को रोकने के लिए कंबल और पर्दे को अगले आदेश तक तुरंत सेवा से हटा दिया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि यात्रियों को अपने खुद के हित के लिए अपने कंबल लाने की सलाह दी जानी चाहिए। सार्वजनिक रूप से यह जानकारी दी जानी चाहिए। किसी भी अन्य उपयोग के लिए कुछ अतिरिक्त चादरें रखी जा सकती हैं।

ईस्ट कोस्ट रेलवे ने एसी कोच से कंबल हटाए 


ईस्ट कोस्ट रेलवे ने एसी कोच में यात्रियों को दिए जाने वाला कंबल हटाने के निर्देश दिए हैं। चीफ पीआरओ जेपी मिश्रा ने कहा, कोई यात्री मांग करता है तो उसे अतिरिक्त चादर उपलब्ध कराई जाएगी।

बिहार: मुजफ्फरपुर में सार्वजनिक स्थल बंद रखने के आदेश





 



बिहार में सीआरपीसी की धारा 144 की शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए मुजफ्फरपुर जिला मजिस्ट्रेट ने सभी सरकारी और निजी संस्थान, कोचिंग संस्थान, आंगनवाड़ी 31 मार्च तक बंद रखने के आदेश दिए हैं। सभी सरकारी और प्राइवेट पार्क और सिनेमा हॉल भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

जिला मजिस्ट्रेट उज्ज्वल कुमार सिंह ने कहा कि कोई भी सांस्कृतिक समारोह, धरना-प्रदर्शन, प्रदर्शन, मेला, धार्मिक आयोजन 31 मार्च तक आयोजित नहीं किए जाएंगे। ऐसे किसी आयोजन के लिए पहले दी गई अनुमति रद्द कर की जा रही है।