फेसबुक और गूगल कोरोना वायरस को ट्रैक करने की कोशिश में जुटे

टेक्नोलॉजी की दुनिया के बादशाह गूगल और फेसबुक भी वायरस को ट्रैक करने की जुगत में लग गए हैं। इसके लिए दोनों कंपनियां वाशिंगटन से इसके लिए बात कर रही हैं ताकि वे भी लोगों की व्यक्तिगत जानकारी के जरिए कोरोना वायरस से लड़ने में आगे आ सकें। इस प्रोजेक्ट के जरिए अमेरिकी लोगों की लोकेशन पहचान छुपाते हुए उनके स्मार्टफोन के जरिए ट्रेस होगी और इसी आधार पर तय होगा कि वायरस का फैलाव कहां तक है और किसे इलाज की जरूरत होगी। गूगल के प्रवक्ता जॉनी लू ने बताया कि पहचान गुप्त रखने के साथ लोकेशन ट्रेस होगी इसकी तैयारी चल रही है।अमेरिका पर वायरस से लड़ने का दबाव बढ़ गया है। इसी के तहत 50 से अधिक वैज्ञानिकों ने सरकार को खुला पत्र लिखकर तकनीकी कंपनियों की मदद के साथ इससे लडऩे का मुकम्मल इंतजाम करने की मांग की है। खुले पत्र में वैज्ञानिकों, डॉक्टरों और शोधकर्ताओं ने लिखा था कि अगर तकनकी कंपनियां सहयोग करेंगी तो इस संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है।