बेवजह घूमने वालों से कराई सफाई,वीजा नियम तोड़ने वाले होंगे ब्लैकलिस्ट

कोरोना वायरस के फैलाव को लेकर सरकार समय के साथ सख्त होती जा रही है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि भारत आने वाले जिन लोगों ने वीजा नियमों और शर्तों का उल्लंघन किया है उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी और संबंधित को ब्लैकलिस्ट भी किया जाएगा। मंत्रालय ने ये भी कहा कि कोरोना वायरस को लेकर अफवाहें फैलाने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन कानून के तहत एफआईआर दर्ज होगी।
 

जम्मू-कश्मीर : सेना ने 21 मजदूरों और दो छात्रों को क्वारंटीन किया

 

लॉकडाउन के बाद अपने घरों की तरफ कूच कर रहे 21 मजदूरों को सेना ने श्रीनगर के थानामंडी इलाके से 21 लोगों और दो छात्रों को जारांवली गली में बने क्वारंटीन कैंप में स्थानांतरित कर दिया। इधर पंजाब के अमरपुरा इलाके में कोरोना पीड़ित मरीज की मौत के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया।

राजस्थान : ईरान से आए दस और में वायरस की पुष्टि
ईरान से जोधपुर लाए गए दस लोगों में मंगलवार को कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। केंद्र सरकार ने ईरान में फंसे 1036 लोगों को एयरलिफ्ट किया था और तब से ऐसे लोगों की जांच चल रही है। सभी को जोधपुर और जैसलमेर में बनाए गए सेना के क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। वहीं दूसरी ओर झुंझुनू के नवलगढ़ में लॉकडाउन के दौरान घूम रहे युवकों को पुलिस ने पकड़ लिया। तीनों को क्वारंटीन वॉर्ड की सफाई का काम दिया गया है।


गोवा : लैब में तकनीकी खराबी नहीं हो सकी जांच



गोवा के लैब में तकनीकी खराबी के चलते कोरोना सैंपल की जांच मंगलवार को नहीं हो सकी। आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने सैंपल पुणे के नेशनल इंस्टीट़्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया। राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि तकनीकी खराबी के चलते ऐसा हुआ है। विशेषज्ञों की टीम गड़बडी को ठीक करने में लगी है। जल्द सब कुछ सामान्य हो जाएगा।




हैदराबाद : स्टॉक खत्म, 60 फीसदी दवा की दुकानें बंद



लॉकडाउन के बीच हैदराबाद में दवा आपूर्ति बाधित होने से शहर में कई दवा दुकानें मंगलवार को बंद रहीं। कई दिनों से आपूर्ति बाधित होने के चलते स्टॉक खत्म हो गया और दुकानें बंद करनी पड़ी जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

दवा एसोसिएशन के महासचिव किशन मुरारे शेट्टी ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं की सूची में शामिल होने के बाद भी दवा आपूर्ति नहीं हो रही है क्योंकि कामगार नहीं पहुंच रहे हैं। इसका नतीजा ये है कि 60 फीसदी दवा दुकानें बंद हो गई हैं।