मरीजों को 24 घंटे ऑनलाइन मिलेगा परामर्श,एम्स ने जारी किया कॉलडॉक मोबाइल एप

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने कॉलडॉक एप लांच की है। इसके माध्यम से एम्स के डॉक्टर मरीजों की 24 घंटे ऑनलाइन चिकित्सकीय सहायता प्रदान कर सकते हैं।
 

इस एप के माध्यम से 300 से अधिक डॉक्टरों से उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों के लोग सीधे तौर पर जुड़ सकते हैं। एम्स के निदेशक प्रो. रविकांत ने बताया कि कॉलडॉक एक क्लाउड आधारित प्लेटफार्म है।

यह अनावश्यक संक्रमण से बचाता है। कॉलडॉक मरीजों को अग्रणीय चिकित्सकों से मिलने, परामर्श व गैर आपातकालीन स्थितियों में घर बैठे उपचार के लाभ की सुविधा प्रदान करता है। एम्स में कॉलडॉक एप सेवा को लांच करते हुए संस्थान के निदेशक प्रो. रविकांत ने बताया कि उत्तराखंड के लोगों के लिए कॉलडॉक एप्लीकेशन शुरू करते हुए प्रसन्नता हो रही है।



यह सुविधा उत्तराखंड की जनता के लिए समर्पित है। उन्होंने बताया कि इस जटिल समय में कोरोना वायरस के प्रकोप से लड़ने के लिए जनता आसानी से एम्स के चिकित्सकों से जुड़ सकती है।

कॉलडॉक आम जनता के लिए एक मुफ्त सेवा है जो गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर से डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। इस एप के माध्यम से 300 से अधिक डॉक्टरों से उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश आदि क्षेत्रों के लोग सीधे तौर पर जुड़ सकते हैं।

संस्थापक और मुख्य कार्यकारी कॉलडॉक एप अरुण डागर ने कहा कि इस समय जब दुनिया कोरोना जैसी महामारी से जूझ रही है, ऐसे में यह एप स्वास्थ्य सेवाओं में कारगार साबित होगा।