ऑफिस के बाद बीएमसी की अब कंगना रणौत के घर पर नजर, अवैध निर्माण को लेकर भेजा नोटिस


अभिनेत्री कंगना रणौत और शिवसेना नेता संजय राउत से बीच तकरार बढ़ती जा रही है। महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लग रहे हैं कि वो कंगना के खिलाफ बदले की भावना से काम कर रही है। बीते दिनों बीएमसी ने कंगना के ऑफिस को अवैध बताते हुए उसे तोड़ दिया था। अब खबर है कि बीएमसी ने कंगना को एक और नोटिस भेजा है। बीएमसी ने कंगना रणौत को उनके फ्लैट के संबंध में एक नया नोटिस भेजा है। आरोप है कि कंगना के खार स्थित घर के अंदर साल 2018 में कई बदलाव किए थे जो नियमों के तहत नहीं हैं। घर में अवैध निर्माण कराया गया है। इसी के चलते बीएमसी अब इस पर एक्शन लेने के मूड में है। कंगना रणौत मुंबई के खार वेस्ट स्थित डीबी ब्रीज (आर्किड ब्रीज) के 16 नंबर रोड पर बनी एक इमारत की पांचवी मंजिल पर रहती हैं। इसी मंजिल पर कंगना के कुल तीन फ्लैट हैं, जिनमें से एक फ्लैट 797 वर्ग फुट, दूसरा फ्लैट 711 वर्ग फुट और तीसरा फ्लैट 459 वर्ग फुट का है। बीएमसी का कहना है कि कंगना के घर में उनके दफ्तर से भी ज्यादा नियमों का उल्लंघन करते हुए अवैध निर्माण कराया गया है। बीएमसी के आरोपों के मुताबिक कंगना के फ्लैट में आठ बदलाव किए गए हैं, जो नियमों के विरुद्ध हैं। ये आठ बदलाव हैं- फ्लैट में प्लांटेशन, छज्जा, बालकनी, टॉयलेट में बदलाव, स्टेयरकेस और किचन। फिलहाल कंगना के घर के अवैध निर्माण का केस कोर्ट में है जिसकी सुनवाई 25 सितंबर को होगी।


 

राज्यपाल से की मुलाकात
रविवार को कंगना रणौत ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। यह मुलाकात करीब 45 मिनट तक चली। इस दौरान कंगना ने राज्यपाल के सामने अपनी बात रखीं। उन्होने राज्यपाल कोश्यारी से न्याय की मांग की। मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कंगना ने कहा, मैं आम नागरिक के नाते राज्यपाल से मिली। मैंने उनसे मेरे साथ हुए अन्याय पर बात की। उन्होंने मुझे बेटी की तरह सुना। मेरे साथ अभद्र व्यवहार हुआ है।


 

उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा- कंगना
कंगना ने आगे कहा कि मैंने राज्यपाल से न्याय की मांग की है। उऩ्हें बताया कि मेरे साथ क्या क्या हुआ। राजनीति से मेरा कोई लेना देना नहीं है। उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा। बता दें कि कंगना रणौत का महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ लड़ाई जारी है। हाल ही में बीएमसी ने कंगना का मुंबई स्थित कार्यालय को तोड़ दिया था, जिसे लेकर कंगना आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने पहुंचीं थीं।