यूपी : हाईकोर्ट के वकील की पत्नी का अपहरण, एक करोड़ मांगी फिरौती, एक आरोपी गिरफ्तार



सुशांत गोल्फ सिटी थानाक्षेत्र के सेलेब्रिटी ग्रीन निवासी हाईकोर्ट के वकील की पत्नी को अगवा कर लिया गया। रविवार को पत्नी को उस वक्त अगवा किया गया था। जब वह शाम को टहलने निकली थी। पुलिस को सूचना दी गई। मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने तलाश शुरू की। इसकी जानकारी होने पर एसटीएफ की टीम भी लग गई थी। मंगलवार देर रात को संयुक्त आपरेशन में दोनों टीमों ने मोहनलालगंज के हरिकंशगढ़ी इलाके से आरोपी को दबोच लिया। वहीं अपहृत महिला को मुक्त कराया गया। इस अपहरण कांड में 10 आरोपी शामिल हैं। पुलिस ने अन्य लोग की तलाश शुरू कर दी है। 


पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के मुताबिक सुशांत गोल्फ सिटी निवासी अनुराग शुक्ला हाईकोर्ट में वकील है। रविवार शाम करीब 7.10 बजे उनकी पत्नी प्रीति शुक्ला अपार्टमेंट के बाहर टहलने निकली थी। इसी बीच एसयूवी सवार पांच बदमाशों ने उनको अगवा कर लिया। पति अनुराग शुक्ला को देर रात को अहपरण करने वालों ने कॉल कर एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। इसकी जानकारी उन्होंने सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस को दी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की।

अपहरण करने वाले बदमाश लगातार वकील से संपर्क कर रहे थे। वह फिरौती की रकम मांग रहे थे। इतनी बड़ी रकम देने में असमर्थता जाहिर की तो अपहरणकर्ताओं ने रुपये की मांग कुछ कम कर दी। इसी बीच सोमवार को इसकी जानकारी एसटीएफ को भी हुई। एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश ने भी इस वारदात के खुलासे के लिए अपनी टीम भी लगा दी।

संयुक्त आपरेशन में कराया गया मुक्त

एसटीएफ एडीजी अमिताभ यश केमुताबिक मंगलवार को संयुक्त रुप से दोनों टीमों ने मोहनलालगंज के हरिकंशगढ़ी इलाके में आपरेशन किया। इस दौरान वहां से संतोष चौबे नाम का अपहरकर्ता मिला। पुलिस ने एक मकान में बंधक बनाकर रखी गई महिला को मुक्त कराया। एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश केमुताबिक इस मामले में दस बदमाश शामिल होने की पुष्टि हुई है। पुलिस ने एक को गिरफ्तार किया है। उसके पास से कई मोबाइल और अन्य सामान बरामद किया है।

अन्य आरोपियो की तलाश में तेज हुई दबिश

पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के मुताबिक इस वारदात में10 बदमाश शामिल थे। इसमें पांच ने अपहरण किया था। इसके बाद जिस स्थान पर प्रीति शुक्ला को रखा गया था। इनके अलावा पांच अन्य बदमाश पहुंचे थे। कमिश्नरेट व एसटीएफ की टीम ने एक आरोपी को दबोच लिया है। वहीं अन्य 9 की तलाश तेज कर दी गई।

पकडे गये आरोपी संतोष चौबे ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। उससे अन्य आरोपियों केबारे में जानकारी हासिल की जा रही है। अन्य अपहरणकर्ताओं को दबोचने केलिए आधा दर्जन टीमें बनाई गई है। इस अपहरण के खुलासे में कमिश्नरेट पुलिस के सुशांत गोल्फ सिटी केप्रभारी निरीक्षक विजयेंद्र सिंह, पीजीआई इंस्पेक्टर आनंद प्रकाश शुक्ला और मोहनलालगंज के दीनानाथ मिश्रा ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जल्द ही अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा