राजधानी लखनऊ के पश्चिम विधायक अरमान खान ने किया राजाजीपुरम मिनी स्टेडियम का निरीक्षण



अपने संकल्प पत्र के अनुसार विधानसभा निवासियों को बेहतर खेल सुविधायें उपलब्ध कराने की दिशा में क्षेत्र के एकमात्र खेल स्टेडियम 'राजाजीपुरम मिनी इंडोर स्टेडियम' का औचक निरीक्षण करने पहुंचे पश्चिम विधायक अरमान खान. स्टेडियम की दुर्दशा देख कर और स्थानीय खेल प्रतिभाओं के भविष्य के साथ हो रहे मजाक एवं संबंधित विभाग और सरकार की लापरवाही पर बहुत दुख हुए

 इस स्टेडियम का लोकार्पण सन 2002 में हुआ था..... बैडमिंटन, टेबल टेनिस, और वेटलिफ्टिंग स्पोर्ट्स ट्रेनिंग की शुरुआत की गई, शुरू में स्तर ठीक रहा और स्थानीय निवासियों को इसका लाभ मिला लेकिन धीरे धीरे ये स्टेडियम लालफीताशाही का शिकार होकर बदहाल होता गया. 2015 में इस स्टेडियम को खेल विभाग को हस्तांतरित करने का और बेहतर खेल सुविधायें उपलब्ध कराने का प्रस्ताव बना लेकिन ज़मीनी हकीकत बदल नही सकी।


आज हालत ये है कि स्टेडियम का विद्युत कनेक्शन पिछले 5-6 सालों से कटा हुआ है, बैडमिंटन कोर्ट के प्लेटफार्म दीमकें चाट कर जर्जर कर चुकी हैं, मुख्य स्टेडियम हाल की छतें टूटी हुई हैं, जिस कारण बारिश का पानी आकर कोर्ट में भरता है, स्टेडियम में पानी सप्लाई का एक टयूबवेल सालों से खराब पड़ा है और शौचालयों की स्थिति भी खराब है.सबसे ज्यादा अफसोस ये है कि स्थानीय खेल प्रतिभाओं के भविष्य को निखारने के लिए बनाया गया ये स्टेडियम पिछले कई सालों से पुलिस/ पीएसी/ अर्धसैनिक बलों की छावनी बना हुआ है, जिससे खिलाड़ियों और स्थानीय मार्निंग वाकर्स को बेहद तकलीफ होती है, लेकिन संबंधित विभाग आंख मूंदे बैठा है।

 समस्याओं को हल कराने के लिए शीघ्र संबंधित विभाग के अधिकारियों से मिलेंगे और सरकार से भी पश्चिम का अधिकार मांगेंगे और स्टेडियम के हालात को हर कीमत पर सुधारने का सतत प्रयास करेंगे. पश्चिम की शान अपने इस स्टेडियम में बेहतर खेल सुविधायें/ खेल इंफ्रास्ट्रक्चर/ स्पोर्ट्स कोच की बहाली के लिए गंभीर प्रयत्न भी करेंगे. साथ-साथ इस स्टेडियम से अर्धसैनिक बलों की छावनी भी समाप्त करायेंगे, ये हमारा सत्य संकल्प है..... आपका अमूल्य सहयोग भी इसमें आवश्यक है।