लेनदेनक्लब ने उत्तर प्रदेश में फिक्स्ड मैच्योरिटी पियर- टू- पियर इन्वेस्टमेंट प्लान लॉन्च किया

 


भारत के सबसे बड़े पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म लेनदेनक्लब ने आज उत्तर प्रदेश में ‘फिक्स्ड मैच्योरिटी पियर टू पियर प्लान’ (एफएमपीपी) पेश किया। यह नए दौर का एक ऐसा टर्म-आधारित पियर- टू- पियर प्लान है जो न्यूनतम 10,000 प्रति निवेश के साथ निवेशकों को 10-12 प्रतिशत प्रति वर्ष तक का स्थिर उच्च रिटर्न प्रदान करता है। कंपनी का लक्ष्य वित्त वर्ष 23 के अंत तक उत्तर प्रदेश में अपने मौजूदा निवेशक आधार को दोगुना करना है। लेनदेनक्लब आरबीआई-अनुमोदित एनबीएफसी- पी2पी है जो 20 लाख से अधिक निवेशकों को सेवा प्रदान करता है। कंपनी ने फिक्स्ड मैच्योरिटी पी2पी इन्वेस्टमेंट प्लान को इस तरह से डिजाइन किया है कि इसमें निवेश की गई राशि को उधारकर्ताओं के एक विशाल पूल में हाइपर-डाइवर्सिफाय किया जाता है, जिसके कारण डिफ़ॉल्ट दर को बहुत कम किया जाता है, इस प्रकार अपने निवेश पर निवेशकों की जोखिम भी कम हो जाती है। नए एआई और एमएल आधारित एल्गोरिदम पहले की तुलना में अधिक शक्तिशाली और प्रभावी हैं क्योंकि वे शुरुआत से ही कंपनी द्वारा अधिग्रहित स्वामित्व वाले प्रथम-पक्ष डेटा पर फाइन-ट्यून्ड और ट्रेंड हैं। यह एफएमपीपी को एक अनूठी विशेषता के रूप में हाइपर-डाइवर्सिफिकेशन की पेशकश करने में सक्षम बनाता है जो जोखिम को कम करता है और रिटर्न की स्थिरता प्रदान करता है। अपने इस प्रोडक्ट को लॉन्च करने से पहले, लेनदेनक्लब ने उत्तर प्रदेश में निवेशकों के डेटा का गहराई से विश्लेषण किया और निवेशकों के निवेश संबंधी व्यवहार को बेहतर तरीके से समझा।कैलेंडर वर्ष 2022 की पहली छमाही में, इसने निवेशकों में 2.75 गुना से अधिक की वृद्धि देखी, जबकि कैलेंडर वर्ष 2021 की तुलना में निवेश में 4 गुना से अधिक की वृद्धि हुई है। दिसंबर 2021 से छह महीने में कुल निवेश राशि में 31-35 आयु वर्ग के लिहाज से 7 गुना से अधिक की वृद्धि हुई है और 26-30 वर्ष के आयु वर्ग में 6 गुना बढ़ोत्तरी दर्ज़ की गई। इसी तरह, दिसंबर 2021 से छह महीने में 31-35 वर्ष के आयु वर्ग के व्यक्तियों के लिए औसत निवेश में 2.8 गुना से अधिक और 26-30 वर्ष के आयु वर्ग के लिए 2.4 गुना से अधिक की वृद्धि हुई है। इस दौरान महिला निवेशकों द्वारा निवेश की गई औसत राशि पुरुष निवेशकों की तुलना में काफी अधिक है। इसके अतिरिक्त, उत्तर प्रदेश के भीतर, भारत की आध्यात्मिक राजधानी के तौर पर प्रसिद्ध वाराणसी पियर टू पियर लेंडिंग में निवेश करने वाले निवेशकों की कुल संख्या के मामले में सबसे आगे है, इसके बाद गाजियाबाद और लखनऊ जैसे अन्य महत्वपूर्ण शहर हैं। लेनदेनक्लब की (एफएमपीपी) निवेश योजना 1, 2, 3, 4, या 5 वर्षों की अवधि के साथ एक टर्म-आधारित निवेश योजना है। निवेशित धन को पूरी अवधि में कई बार पुनर्निवेश किया जाता है, इस प्रकार निवेशकों को चक्रवृद्धि के साथ-साथ वार्षिक लाभ की शक्ति भी मिलती है और उन्हें 5 वर्ष तक की अवधि पर 12.21 से 15.25 प्रतिशत प्रति वर्ष का वार्षिक रिटर्न हासिल होता है।


नॉन मार्केट लिंक्ड होने के कारण यह निवेश की ऐसी सुविधा है, जो बाजार की अस्थिरता से मुक्त है। इस तरह निवेशकों को किसी किस्म की जोखिम का सामना नहीं करना पड़ता है और निवेशकों को अपने निवेश किए गए मूलधन के लिए अतिरिक्त सुरक्षा मिलती है और साथ ही मिलता है बेहतर रिटर्न। इसके अलावा, यह प्रोडक्ट अन्य निश्चित आय परिसंपत्ति वर्गों जैसे एफडी, गोल्ड बॉण्ड आदि के साथ प्रतिस्पर्धा करता है। (एफएमपीपी) के लॉन्च पर लेनदेनक्लब के को-फाउंडर और सीईओ भाविन पटेल ने कहा, ‘‘हमने उत्तर प्रदेश में ऐसे निवेशकों की संख्या में स्थिर वृद्धि देखी है जो निवेश के दूसरे विकल्पों में निवेश करने के इच्छुक हैं। वैकल्पिक परिसंपत्ति वर्गों के इस युग में (एफएमपीपी) एक अग्रणी, ग्राहक-प्रथम निवेश पेशकश है। हम जो कुछ भी करते हैं उसके केंद्र में टैक्नोलॉजी है। अपने प्लेटफॉर्म में हाइपर-डाइवर्सिफिकेशन, ऑटो-इन्वेस्टमेंट और रीइन्वेस्टमेंट जैसी प्रमुख तकनीकी विशेषताओं को पेश करके, हम निवेश की योजना बनाने और निष्पादित करने के तरीके में एक महत्वपूर्ण बदलाव लाने पर विचार कर रहे हैं। ये सुविधाएं खासकर उत्तर प्रदेश के युवा और तकनीक-प्रेमी लोगों के लिए सर्वाधिक उपयुक्त हैं।’’उन्होने कहा, ‘‘मौजूदा निवेश परिदृश्य के साथ, उच्च मुद्रास्फीति और बाजार में अस्थिरता के साथ, एफएमपीपी स्थिरता और पारदर्शिता का एक नया प्रतिमान जोड़ता है, जिसे निवेशकों के बीच अब तक प्राथमिकता मिली है। हमारा एकमात्र ध्यान यह सुनिश्चित करना है कि हमारे 99 प्रतिशत से अधिक निवेशक हमारे ऐतिहासिक डेटा के आधार पर 10-12 प्रतिशत का स्थिर रिटर्न अर्जित करें।’’


एफएमपीपी एक निश्चित निवेश योजना है, जिसमें लंबी अवधि के लॉक-इन से कंपाउंडिंग की सुविधा मिलती है और इस तरह नियत समय में प्रतिफल में सुधार होता है। स्थिर रिटर्न और मार्जिनलाइज्ड एनपीए के साथ चक्रवृद्धि ब्याज की शक्ति को हासिल करते हुए हाई रिटर्न के साथ, कोई भी लगभग 6 वर्षों के समय में एफएमपीपी में अपने निवेश को दोगुना कर सकता है। हालांकि न्यूनतम निवेश 10,000 प्रति निवेश है, पर योजना इस तरह तैयार की गई है कि निवेशक इसके तहत कई (एफएमपीपी) प्लान खोल सकते हैं, हालांकि इनका कुल पोर्टफोलियो मूल्य 50 लाख से अधिक नहीं होना चाहिए, जो कि आरबीआई द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के अनुरूप है। एक बेहतर ऐप अनुभव के माध्यम से पेश किए गए ऑटो निवेश और पोर्टफोलियो ऑप्टिमाइजेशन की सुविधा (एफएमपीपी) को स्मार्ट निवेशकों के लिए एक अनिवार्य निवेश विकल्प बनाता है। ग्राहकों को अपने साथ जोड़ने और लोन डिस्बर्समेंट के शानदार रिकॉर्ड के साथ लेनदेनक्लब भारत में सबसे तेज और सबसे महत्वपूर्ण पी2पी ऋण देने वाली कंपनियों में से एक है। इसने अपनी स्थापना के बाद से 5,000 करोड़ के ऋण वितरण की उपलब्धि हासिल की है। इसने हाल ही में टस्कन वेंचर्स, ओम स्टॉक ब्रोकर्स और अर्थ वेंचर फंड सहित निवेशकों के कंसोर्टियम के नेतृत्व में सीरीज ए राउंड में 10 मिलियन डॉलर जुटाए हैं।